बगलामुखी मंत्र | Baglamukhi Mantra Lyrics in Hindi

सद्गुण तो हर मनुष्य के अंदर होता है लेकिन समय का कुछ ऐसा खेल होता है जिसके वजह से मनुष्य बुरा बन जाता है, उसके अंदर बुराइयां आ जाती है। हरेक मनुष्य को चाहिए कि वो अपने सद्गुणों का संरक्षण करें, अपने बुराइयों का नाश करें और अपनी असीमित क्षमताओं को पहचाने। मनुष्यों को इस तरह का कार्य करने के लिए बगलामुखी मंत्र (Baglamukhi Mantra Lyrics in Hindi) का जाप करना चाहिए।

- Advertisement -

बगलामुखी मंत्र | Baglamukhi Mantra Lyrics in Hindi

ॐ ह्लीं बगलामुखि सर्वदुष्टानां
वाचं मुखं पदं स्तम्भय जिह्वां
कीलय बुद्धिं विनाशय ह्रीं ॐ स्वाहा

बगलामुखी मंत्र का अर्थ: हे देवी बगलामुखी आप अन्तर्यामी है, आप सभी नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करने वाली है। हे माँ आप गलत कार्य करने वाले लोगों के कदमों को रोकें, हे माँ आप गलत करने वाले लोगों के जुबान पर अंकुश लगाएं। हे माँ बगलामुखी आप गलत करने वाले लोगों की बुद्धि नष्ट कर दे।

माँ बगलामुखी के मंत्र का जाप प्रातः काल में सूर्योदय से पहले ब्रह्म मुहूर्त में करना होता है। इस मंत्र का जाप माता के मूर्ति के सामने करना होता है। माता के इस मंत्र का जाप स्नान करने के बाद एक चटाई पर बैठ कर करना होता है । इस मंत्र का जाप पश्चिम दिशा में मुँह करके करना होता है।

माता बगलामुखी के मंत्र का जाप करते समय अपने हाथ में एक रुद्राक्ष का माला रखना होता है। इस मंत्र का जाप करने के दौरान माता के सामने घी के दीये जलाने होते है और माता के चरणों में पीले फूल चढ़ाने होते है। इस मंत्र का जाप कम से कम ग्यारह बार करना होता है। इस मंत्र का जाप शुक्रवार के दिन ही करना होता है।

इसे भी पढ़े: अगर आपको संतान सुख नहीं मिल रहा है तो करें संतान गोपाल के इस चमत्कारी मंत्र का जाप, ज़रूर फल मिलेगा

माता बगलामुखी के मंत्र के जाप से शत्रुओं का नाश होता है। इस मंत्र के प्रभाव से मनुष्य को तत्काल राहत और सुरक्षा प्रदान होता है। इस मंत्र के प्रभाव से मानसिक बीमारियों से राहत मिलती है। माता बगलामुखी के मंत्र के प्रभाव से सद्गुणों का संरक्षण होता है, सभी बुराईयों का नाश होता है और मनुष्य अपनी असीमित क्षमताओं की पहचान करता है।

- Advertisement -