गायत्री मंत्र फुल लिरिक्स हिंदी में । Gayatri mantra full lyrics in Hindi

गायत्री मंत्र फुल लिरिक्स हिंदी में । Gayatri mantra full lyrics in Hindi

शास्त्रों में अनेको प्रभावशाली और शक्तिशाली मंत्रो के बारे में बताया गया है। उन्ही मंत्रो में से एक मंत्र है गायत्री मंत्र। गायत्री मंत्र का उच्चारण दैनिक अनुष्ठानों में भी किया जाता है। हिन्दू धर्म शास्त्रों में अलग अलग भगवानो को प्रसन्न करने के लिए अलग अलग मंत्र बताए गए है। लेकिन गायत्री मंत्र एक ऐसा मंत्र है जिसका जाप करने से इंसान के जीवन में आ रही सभी परेशानियां दूर हो जाती है।

- Advertisement -

आमतौर पर जब किसी भी घर में पूजा और हवन इत्यादि होते है तो ऐसे में गायत्री मंत्र जरूर बोला जाता है। चलिए अब हम आपको गायत्री मंत्र के साथ साथ गायत्री मंत्र जाप करने का तरीका भी बता रहे है।

गायत्री मंत्र फुल लिरिक्स इन हिंदी
ॐ भूर्भुवः स्व तत्सवितुर्वरेण्यं
भर्गो देवस्य धीमहि
धियो यो नः प्रचोदयात ॥

गायत्री मंत्र जाप करने का तरीका
यह तो आप ऊपर पढ़ ही चुके है की हिन्दू धर्म में किसी भी भगवान की पूजा या हवन जैसे कामो में गायत्री मंत्र का जाप किया जाता है। गायत्री मंत्र का जाप दिन के किसी भी समय कर सकते है लेकिन सुबह इस मंत्र का जाप करना शुभ माना जाता है। इसीलिए सुबह जल्दी उठ कर स्नान करके साफ कपड़ें पहन लें। फिर एक साफ आसन बिछा कर अपने सामने एक चौकी पर साफ कपडा बिछा लें।

- Advertisement -

यह भी पढ़ें: माँ लक्ष्मी जिन्हें धन की देवी भी कहा जाता है, उनके इस मंत्र के जाप मात्र से ही आप अपने घर परिवार की सभी आर्थिक समस्याओं से मुक्ति पा सकते हैं और धन-धान्य की प्राप्ति कर सकते हैं।

चौकी के ऊपर माँ गायत्री की फोटो या मूर्ति रख लें। माता के सामने घी का दीपक और धूप बत्ती जला दें। फिर माता को पुष्प, फल और मिठाई अर्पित करें। गायत्री माता की आरती और चालीसा पढ़ें।उसके बाद हाथ में तुलसी की माला लेकर ऊपर बताए गए मंत्र का जाप 108 बार करें। नियमित इस मंत्र का जाप करने से आपके जीवन में आ रही सभी बाधाएं माँ गायत्री की कृपा से जल्द दूर हो जाती है।

- Advertisement -