इस ठंड के मौसम में पराठे सभी के पसंदीदा होते हैं, आज हम मूली के पत्ते का पराठा बनाने की विधि देखेंगे

Radish Leaves (Mooli) Paratha Recipe in Hindi । मूली के पत्ते का पराठा बनाने की विधि

मूली के पत्ते का पराठा एक बेहद ही स्वादिष्ट रेसिपी है और किसी भी अन्य भरवां पराठे की तरह ही बनाया जाता है। स्टफिंग मूली के पत्तों से बनाई जाती है। मूली के पत्तों का बहुत बार उपयोग नहीं किया जाता है। इन पत्तों को बिना ज्यादा मेहनत किए इस्तेमाल करने का यह एक आसान तरीका है। यह पराठा काफी क्रिस्पी और स्वाद में लाजवाब होता है। मूली के पत्तों में भरपूर मात्रा में विटामिन और मिनरल्स होते हैं। ये एंटीबैक्टीरियल गुणों और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होते हैं।

- Advertisement -

आवश्यक चीजें
परांठे के लिए गुंधा आटा (गेहूं का आटा)
घी/तेल

स्टफिंग के लिए:
2 कप मूली के पत्ते कटे हुए (मूली के पत्ते)
2 से 3 चम्मच बेसन
1 चम्मच अदरक का पेस्ट
½ चम्मच अजवाइन
½ चम्मच मिर्च पाउडर
½ चम्मच अमचूर (आम पाउडर)
नमक स्वादानुसार
2 छोटी चम्मच तेल

मूली के पत्ते का पराठा बनाने की विधि

सबसे पहले स्टफिंग बनाने के लिए, मूली के पत्तों को बहुत कम पानी में दाल कर अच्छे से साफ़ कर लें, फिर निथार कर सारा पानी निकाल दें। एक बड़े चम्मच या आलू मैशर के पीछे पत्तों को मसल कर दरदरा पेस्ट बना लें। एक पैन में तेल गर्म करें; अजवाइन, अदरक डालें और मिलाएँ।

उसके बाद इसमें पत्ता डालें और तब तक भूनें जब तक सारी नमी सूख न जाए। अब इसमें मसाला, नमक, बेसन डालें और तब तक भूनें जब तक कि मसाला अच्छी तरह से मिक्स न हो जाए और बेसन से महक न आने लगे। अब इस स्टफिंग को ठंडा करें।

अब पराठा बनाने के लिए, आटे से नीबू के आकार की लोई तोड़ लीजिये। इसे सूखे आटे की सहायता से 3” व्यास में बेल लें। एक चम्मच स्टफिंग रखें और आटे को एक साथ लाकर फिर से लोई बना लें। लोई को चपटा करके मोटा पराठा बेल लें।

अब इसे गरम तवे पर डालें और हल्का सा सिकने के बाद पलट दें। घी या तेल लगाकर फिर से पलट दें और इस तरफ भी घी लगाएं। दोनों तरफ से अच्छी तरह सिंक जाने पर निकाल लें।

यह भी पढ़ें: पोषक तत्वों से भरपूर बाजरे के डालिये को बनाये कुछ इस अंदाज में, दें अपनी सेहत पर थोड़ा ध्यान

आपका मूली के पत्ते का पराठा बनकर बिलकुल तैयार है, अपने परिवार के साथ इसका भरपूर आनंद लें।

- Advertisement -